गाड़ी नंबर से गाड़ी पर लोन है या नहीं कैसे चेक करे?

आज की तेज़ रफ़्तार ज़िन्दगी में कार बाइक का होना बहुत ज़रूरी हो गया गया है, बस के लिए इंतेज़ार करना और सफर मे अपना समय बर्बाद करना कोई नहीं चाहता हैं। ऐसे मे लोग खुद की गाड़ी लेना ही पसंद करते हैं। तो कोई नई गाड़ी लेता है तो कोई पुरानी, यदि आप पुरानी गाड़ी लेने का विचार कर रहे हैं तो गाड़ी पर लोन है की नहीं उसे ज़रूर चेक करें।

गाड़ी का लोन कैसे चेक करें,बाइक का लोन कैसे चेक करें,कार लोन पर कितना ब्याज लगता है,अपना लोन कैसे चेक करें,Gadi ka loan kaise check kare,EMI calculator,Vahan,गाड़ी नंबर से गाड़ी पर लोन है या नहीं कैसे चेक करे?,गाड़ी लोन पर है या नहीं चेक कैसे करें: गाड़ी का लोन कैसे देखे,वाहन ऋण की स्थिति ऑनलाइन कैसे जांचें,गाड़ी का लोन कैसे चेक करें।Gaddi Ka Loan Kaise Check Kare,लोन कैसे चेक करें – गाड़ी का लोन कैसे चेक करें? – सेवामे,गाड़ी की किस्त कैसे चेक करें | ,महिंद्रा फाइनेंस से आकर्षक ब्याज दरों पर प्रयुक्त कार ऋण प्राप्त,कुछ ही मिंटो में – Gadi Ka Loan Kaise Check Kare – LoanGuy,
वाहन लोन के लिए प्रोसेसिंग शुल्क कितना होता है?,क्या वाहन लोन लेने के लिए प्रॉपर्टी का होना जरुरी है?,

आप चाहे नई या पुरानी कार, बाइक या कोई भी वाहन खरीदते हैं तो उसको लेने के दो ही तरीके होते हैं अगर आपके पास पैसे हैं तो आप पुरी कीमत देकर गाड़ी के मालिक बन जाएंगे या फिर आप किसी बैंक या एजेंसी से लोन लेंगे, जिसमें आप गाड़ी के आधे मालिक होंगे।

जी हाँ, अगर आप किसी बैंक या एजेंसी से बिना किसी Security रखे गाड़ी को लोन से खरीदते हैं तो आपकी वह गाड़ी जिस पर लोन लिया है वही बैंक के पास Security होगी और बैंक का आपकी गाड़ी पर बराबर का अधिकार होगा। और आपके नाम के साथ साथ फाइनेंसर कंपनी का नाम भी RTO द्वारा आपके Registration Card पर भी दर्शाया जाता है। इसको Hypothecation कहा जाता है।

क्या लोन वाले गाड़ी को बेचा जा सकता है?

अगर आपका वाहन लोन पर है तो आप उस वाहन को बेच नहीं सकते है। क्योंकि बैंक भी उस गाड़ी पर अधिकार रखता है और बैंक की मंज़ूरी के बिना बेचा नहीं जा सकता है। Hypothecation से पता चलता है कि अभी उस गाड़ी पर लोन बकाया है । और यदि आप लोन पूरा अदा नही करते हैं तो बैंक को अधिकार है कि वह आपकी गाड़ी को बेचकर के अपना लोन वसूल सकता है।

क्या गाड़ी के लोन को हटाया जा सकता है?

जब आपकी गाड़ी का लोन पूरा अदा हो जाता है, तो आपका आपकी गाड़ी पर एकाधिकार हो जाता है। इसके लिए आप Online या सीधे RTO में offline आवेदन कर सकते हैं। इस प्रक्रिया आपको बैक द्वारा NOC प्राप्त होने के तीन महीने के अंदर करना है।

गाड़ी नंबर से गाड़ी के लोन की कैसे जाँच करें?

गाड़ी के लोन का स्टेटस आप आपने कंप्यूटर या मोबाइल से भारत सड़क मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर भी पता कर सकते हैं, जिसके लिए आपको नीचे दी गयी स्टेप्स का अनुसरण करना होगा।

Step 1: गाड़ी लोन पर है या नहीं उसको पता करने के लिए आप किसी भी ब्राउज़र की मदद से वाहन परिवहन की ऑफिशियल साइट https://vahan.parivahan.gov.in पर जाए। ‘Informational  Services‘ के निचे  ‘Know Your Vehicle Details’

know your vehicle details

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Step 2: यहाँ आपको citizen services का पेज खुल जहाँ आपको आपके मोबाइल नंबर से log in करना होगा साथ ही एक पासवर्ड बनाना होगा। (आपको पासवर्ड सेव का ऑप्शन भी मिलता है, अगर आप चाहे तो आगे के लिए पासवर्ड सेव रख सकते हैं) आइंदा log in करने के लिए आपको ‘know your detail’ पर  क्लिक करना है। और बस यहाँ रजिस्ट्री मोबाइल नंबर और पासवर्ड ही डालना होगा।

Note: अगर आपके पास अकाउंट नहीं हैं तो अपना मोबाइल नंबर और ईमेल यूज़ करके अकाउंट बना सकते हैं। अकाउंट बनाने के लिए ‘Create Account‘ में क्लिक करे।

parivahan login

 

 

 

 

 

 

 

 

Step 3: अब एक नया पेज Vehicle Registration Status जिसका शीर्षक होगा, जहाँ आपको अपने वाहन का नंबर डालना होगा और सही सही Captcha डालकर नीचे दिया Vahan search पर क्लिक करना होगा।

gadi loan check

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Step 4: Vahan search करने के उपरांत एक और पेज खुल जायेगा जहाँ आपको आपके वाहन से संबंधित सभी जानकारी मिल जायेगी, जैसे की रेजिस्ट्रेशन नंबर, गाड़ी का रंग, चचेस् नंबर आदि। और अगर गाड़ी लोन पर ली गयी है तो finance के आगे Yes लिखा हुआ बताएगा। Yes का मतलब गाड़ी पर लोन है।

gadi number se gadi loan detail

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

इस तरह आप किसी भी वाहन की जानकारी और लोन की जानकारी  अपने मोबाइल या कंप्यूटर से पता लगा सकते हैं और किसी भी प्रकार की ठगी और धोके से बच सकते हैं। अगर सेकंड हैंड वाहन लेना चाहते हैं तो ज़रूरी है कि उसके फाइनेंशियल डिटेल पता करें क्योंकि आजकल ज़्यादातर गाड़िया फाइनेंस होती हैं, जिस बैंक ने फाइनेंस करा है वह उस गाड़ी पर बराबरी का हक रखता है और लोन जबतक पुरा ना हो जाए तो वह गाड़ी किसी को बेची नहीं जा सकती हैं और लोन का भुगतान ना होने पर वह बैंक गाड़ी को बेचने का अधिकार रखता है।

इसलिए अगर आप सेकंड हैंड गाड़ी लेने के इच्छुक हैं तो गाड़ी के नंबर से ही उसकी फाइनेंस डिटेल और की ज़रूर जांच पड़ताल करें। यदि गाड़ी Hypothecation Free है तभी गाड़ी लें। अगर आपने कोई गाड़ी फाइनेंस कराई हैं और अब आपको गाड़ी की फाइनेंस डिटेल जानना है तो आप ऊपर दि गयी जानकारी से पता लगा सकते हैं कि गाड़ी किस बैंक के द्वारा फाइनेंस की गयी है, कितनी किस्ते जमा हुई हैं कितनी बकाया हैं।

यह बहुत ही आसान तरीका है किसी भी वाहन की लोन डिटेल निकालने का, यदि आप Used गाड़ी खरीदने जा रहे हैं तो एक बार गाड़ी के नंबर के द्वारा Financial Status ज़रूर चेक करें ताकि किसी भी तरह की आगे आने वाली परेशानियों से बचा जा सके। उम्मीद है कि दी गयी जानकारी आपके लिए लाभदायक होगी।

Leave a Comment

UP Scholarship Correction 2023 – यूपी स्कॉलरशिप रजिस्ट्रेशन में करेक्शन कैसे करें? जानें Bhulekh UP : यूपी भूलेख पोर्टल (upbhulekh.gov.in) पर खसरा/खतौनी कैसे देखें? जानें Kareem Abdul-Jabbar Makes Decision On Lakers’ Home Games Amid LeBron James’ Pursuit Of Scoring Record Ravens Star Has Honest Admission About Lamar Jackson’s Contract Situation 1 NFL Team Was ‘Counting On’ Tom Brady Playing Next Season